दोस्तों आज इस इंटरनेट के युग में कोई भी ऑनलाइन शिक्षा ग्रहण करना बड़ी बात नहीं है ।   इंटरनेट पर लाखों-करोड़ों सूचनाएं उपलब्ध हैं. जिनकी मदद से एक सामान्य व्यक्ति भी अपनी जानकारी की चीजें खोज लेता है । परंतु एक बाधा का सामना तो करना ही पड़ता है. जहां google इतना बड़ा सर्च इंजन बन गया है वही पर कई सही सूचनाओं के साथ गलत सूचनाएं भी उपलब्ध हैं। इनमें से सही सूचनाओं को खोजना थोड़ा मुश्किल हो जाता है । इसी समस्या का समाधान करने के लिए यह पोस्ट लिखा गया है जिसमें आप पढ़ेंगे कंप्यूटर के बारे में संपूर्ण जानकारी what is computer in hindi जिससे आपको अलग-अलग तरह की जानकारियां अलग-अलग जगह से ना लेनी पड़े सारी जानकारियां यहीं पर एक ही पोस्ट में उपलब्ध है।

what is computer text image
What is Computer ?

दोस्तों आज के इस पोस्ट में आप पढ़ेंगे :-

  • कंप्यूटर का परिचय। ( introduction of computer )
  • कंप्यूटर क्या है ? ( What is computer )
  • कंप्यूटर साक्षरता क्यों जरूरी है ? ( why computer literacy )
  • कंप्यूटर की क्षमताएं । ( strengths of computer )
  • कंप्यूटर की सीमाएँ । ( Limitations of computer )
  • कंप्यूटर का पीढ़ियां । ( Generation of computer )
  • कंप्यूटर के प्रकार । ( types of computer )
  • कंप्यूटर की मूलभूत प्रयोग। ( Fundamental uses of computer )
  • सारांश । ( Summary )
  • उपसंहार । ( Conclusion)

तो चलिए आज का यह पोस्ट What is computer in hindi start करते हैं :-

परिचय (what is computer in hindi) :-

दोस्तों आज का युग लगातार कंप्यूटर का युग बनता जा रहा है। और यदि ऐसे में आप एक विद्यार्थी हैं, या कोई अध्यापक और यदि आप से किसी ने पूछ लिया कि कंप्यूटर क्या है ? what is computer ? तो क्या आपके द्वारा 'नहीं' में उत्तर देना उचित होगा ? यह बहुत आश्चर्यजनक बात हो जाएगा कि आप  शिक्षित होते हुए भी कंप्यूटर के बारे में नहीं जानते । यह अविश्वसनीय और अकल्पनीय प्रतीत होगा। आजकल हर जगह कंप्यूटर विद्यमान है। और पृथ्वी पर रहने वाला हर व्यक्ति इसके अस्तित्व के बारे में नकार नहीं सकता।

कंप्यूटर ने मनुष्य के जीवन को सरल और सहज बना दिया है। सब कुछ ऐसा लगता है। जैसे यह कोई अदृश्य शक्ति है, जब यह तकनीक हमारे जीवन को इतना प्रभावित कर रहा है तो क्या हमारी जिम्मेदारी नहीं बनती कि हम इस दिव्य रचना Computer की छोटी-बड़ी प्रत्येक बातों को जाने और इसे समझने का प्रयास करें . तो आज के इस पोस्ट में हम आपको कंप्यूटर के बारे में अधिक से अधिक जानकारी देने का प्रयास करेंगे जिससे आपको किसी अन्य पोस्ट में जाने की आवश्यकता ना पड़े और सारी जानकारी यहीं पर आपको मिल सके । [आप पढ़ रहे हैं - what is computer in hindi ?]

कंप्यूटर क्या है ? What is computer in hindi :-

कंप्यूटर की परिभाषा सामान्यता इस प्रकार है -

"कंप्यूटर ऐसा इलेक्ट्रॉनिक मशीन है जो अंकगणितीय और तार्किक क्रियाकलापों को बहुत ही कम समय में उपयोगकर्ता के आदेशों के अनुसार संपन्न कर सकता है । आज कंप्यूटर केवल कुछ कार्यों तक ही सीमित नहीं रह गया है जैसा कि पहले था। पहले कि कंप्यूटर एक बड़े कमरे के आकार के होते थे जो आजकल के सैकड़ों पर्सनल कंप्यूटरों के बराबर ऊर्जा का उपयोग करते थे आजकल कंप्यूटरों ने अनेक प्रकार के रूप और आकार धारण कर लिए हैं। अब कंप्यूटरों को इतना छोटा बनाया जा सकता है , कि इन्हें एक कलाई में भी घड़ी के रूप में पहना जा सकता है। आजकल पर्सनल तथा पोर्टेबल कंप्यूटरों का अत्यधिक महत्व है ।

Embedded Computer :-

Embedded Computer भी अत्यधिक प्रचलित है। यह कंप्यूटर छोटे था साधारण मशीन होते हैं जो प्रायः अन्य यंत्रों को नियंत्रित करने के लिए प्रयोग किया जाता है। जैसे लड़ाकू विमान इंडस्ट्रियल रोबोट डिजिटल कैमरा और बच्चों के खिलौनों तक में देखने को मिलता है. कंप्यूटर में किसी भी प्रोग्राम को Store एवं Execute करने की क्षमता होती है जो कंप्यूटर को अत्यधिक वर्सेटाइल बनाते हैं। तथा इन्हें केलकुलेटर से भिन्न बना देते हैं । कोई भी कंप्यूटर एक निश्चित एवं न्यूनतम क्षमता के साथ उन सभी कार्यों को संपन्न कर सकता है जो किसी अन्य कंप्यूटर द्वारा संपन्न किए जा सकते हैं। इसलिए पर्सनल डिजिटल असिस्टेंट से लेकर सुपर कंप्यूटर तक की छमता और जटिलता वाले कंप्यूटर भी समान संगठनात्मक कार्य को संपन्न कर सकते हैं। {आप पढ़ रहे हैं - what is computer in hindi ?}

कंप्यूटर को जानना आवश्यक क्यों है ? Why Computer Literacy?

कंप्यूटर की साक्षरता क्यों जरूरी है? क्या यह सिर्फ एक उद्योग स्थापित करने की उद्देश्य से है? या फिर कंप्यूटर आज वाकई इतना महत्वपूर्ण बन गया है? कि इसको भली-भांति जानना आवश्यक है। इससे पहले कि आप इसका कोई जवाब ढूंढें आप अपने चारों ओर कंप्यूटर के प्रयोगों पर एक दृष्टि डालें। आप टेलीविजन तो प्रतिदिन देखते ही होंगे। क्या टेलीविजन पर दिखाया जा रहा समाचार तथा अन्य कार्यक्रम कंप्यूटर के बगैर इतना उत्कृष्ट रूप में मुमकिन है? बिल्कुल नहीं टेलीविजन स्टूडियो में कंप्यूटरीकृत ग्राफिक्स तथा उच्च स्तरीय कंप्यूटर नियंत्रित प्रकाश तंत्र का प्रयोग होता है। इसके अतिरिक्त घटनाओं के सीधा प्रसारण एवं और भी बहुत सारी गतिविधियों में कंप्यूटर का प्रयोग अनिवार्य बन गया है।

What is Computer in hindi
Computer Kya Hai

Mostly uses of Computers :-

क्या आपने कभी मौसम समाचार पर गौर किया है? किस प्रकार आपको मौसम की भविष्यवाणी बताई जाती है। मौसम विभाग इसके लिए व्यापक कंप्यूटर नेटवर्क का प्रयोग करने के अलावा उपग्रह से जुड़े हुए Computer Forecast system का प्रयोग करते हैं। क्या आपने सड़क पर चलते समय या गाड़ी पर चलते समय यातायात प्रणाली पर ध्यान दिया है। ट्रैफिक लाइट सिस्टम पूरा-पूरा कंप्यूटर द्वारा संचालित होता है।

विकसित देशों में तो पूरा यातायात तंत्र ट्रैफिक सिस्टम ही कंप्यूटर द्वारा नियंत्रित होता है। क्या आपने बैंकिंग सिस्टम में कंप्यूटर की उपयोगिता पर ध्यान दिया है? आज पूरे बैंकिंग सिस्टम का आधार कंप्यूटर है। ऑटोमेटिक टेलर मशीन (ATM) स्वयं में पूरा कंप्यूटर ही है। क्या आप कोई ऐसा क्षेत्र सोच सकते हैं। जहां कंप्यूटर का प्रयोग ना हो रहा हो, कंप्यूटर हवाई जहाज के उतरने में, चिकित्सा में, दूरभाष प्रणाली में, शिक्षण में, शोध करने में, मनोरंजन करने में, और इसी तरह के अनेक कामों में यह कंप्यूटर हमारी पूरी सहायता करता है।

Use of Computer :-

आज हमारे जीवन में Computer कोई भी निर्णय लेने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। यदि आप किसी व्यापार के प्रबंधक हैं, और आप कोई महत्वपूर्ण् निर्णय लेना चाहते हैं तो आज आपके पास निर्णय लेने के लिए केवल एक दिमाग नहीं बल्कि विश्व के सबसे अच्छे दिमाग का संकलन है जो Computer की सहायता से उपलब्धध होता है। इस तंत्र को Expert System कहते हैं। इस प्रकार कंप्यूटर से अन्यय प्रकार की जानकारियां प्राप्त हो जाती हैं। इसलिए आज के समय में हर एक व्यक्ति को कंप्यूटर की जानकारी होनी ही चाहिए। (इस समय आप पढ़ रहे हैं - what is computer in hindi ?)

Conclusion :-

अब आप बताइए कि क्या कंप्यूटर साक्षर होना आपके लिए आवश्यक है? इसके बाद कोई भी बुद्धिमान व्यक्ति का जवाब शायद ही ना होगा आज कंप्यूटर साक्षरता उतना ही जरूरी है जितना पढ़ना लिखना और सीखना आवश्यक है। कंप्यूटर आज रोजगार पाने का सबसे महत्वपूर्ण साधन बन गया है आज कंप्यूटर सूचना तंत्र का आधार है और कामयाबी का एकमात्र स्रोत सूचना है। आज के समय में आप अपने आप को जितना अधिक Update रखेंगे उतनी ही तेजी से आप अपनी कामयाबी की ओर बढ़ेंगे।

कंप्यूटर की क्षमताएं (Strengths of Computer) :-

दोस्तों Computer का उपयोग व्यापक है। आजकल Computer की क्षमता का उल्लेख करना इतना आसान नहीं है कंप्यूटर आज विभिन्न क्षेत्रों में विभिन्न लोगों की सहायता कर रहा है। इसके अनुप्रयोग को देखते हुए इनकी क्षमताओं का अंदाजा तो जरूर लगाया जा सकता है।तो चलिए अब हम जानते हैं कि कंप्यूटर की मुख्य क्षमताएं क्या-क्या हो सकती हैं?

1. गति (Speed) :-

Computer किसी भी कार्य को बहुत तेजी से कर सकता है। कंप्यूटर कुछ ही क्षण में गुणा, भाग, जोड़, घटाव और करोड़ों क्रियाएं सेकंडों में कर सकता है । अतः इसकी गति अकल्पनीय है।

2. स्वचालन (Automation) :-

Computer अपना कार्य, निर्देशों के एक समूह के एक बार लोड हो जाने पर स्वत: कार्य करना प्रारंभ कर देता है।

3. शुद्धता (Accuracy) :-

Computer अपना कार्य बिना किसी गलती के संपूर्ण करता है। कंप्यूटर द्वारा गलती किए जाने का कई उदाहरण सामने आता है, लेकिन इन सभी गलतियों में या तो कंप्यूटर में डाटा एंटर करने वाले यूजर की गलती होती है या फिर किसी प्रोग्राम डेवलपर में Computer स्वयं से कभी गलती नहीं करता है।

4. सार्वभौमिकता (Versatility) :-

कंप्यूटर अपनी सार्वभौमिकता के कारण पूरी दुनिया में अपना विस्तार और भी गहरा बनाता जा रहा है। कंप्यूटर गणितीय कार्यों को संपन्न करने के साथ-साथ व्यवसायिक कार्यों के लिए भी प्रयोग में लाया जाने लगा है। कंप्यूटर को टेलीविजन तंत्र से जोड़ कर दुनिया भर में सूचनाओं का आदान-प्रदान आसानी से किया जा रहा है। कंप्यूटर की सहायता से तरह-तरह के लेख लिखे जा रहे हैं। आप यह जो पोस्ट पढ़ रहे हैं, यह भी Computer पर ही लिखा गया लेख है।

5. उच्च स्टोरेज क्षमता :-

Computer System की डाटा स्टोरेज क्षमता बहुत अधिक होती है। कंप्यूटर लाखों-करोड़ों शब्दों को बहुत कम जगह में स्टोर करके रख सकता है। यह सभी प्रकार के डाटा, टेक्स्ट, प्रोग्राम, चित्र, आवाज आदि कई प्रकार के डाटा को वर्षों तक सुरक्षित Store करके रख सकता है। हम कभी भी यह सूचना कुछ ही सेकंड में प्राप्त कर सकते हैं, तथा इसका उपयोग अपनी जरूरतों के अनुसार कर सकते हैं।

6. कर्मठता :-

कंप्यूटर की कार्य क्षमता का उल्लेख नहीं किया जा सकता । आज मानव किसी भी कार्य को निरंतर कुछ समय तक करते रहने पर थक जाता है। ठीक इसके विपरीत Computer अपने किसी भी कार्य को निरंतर 24 घंटे, महीनों, सालों तक लगातार करते रहने की क्षमता रखता है ।इसके बावजूद इसके कार्य करने की क्षमता में ना तो कोई कमी आती है, ना इसकी स्पीड में कोई कमी आती है और ना इसके किसी परिणाम की शुद्धता में कमी होती है। कंप्यूटर को दिया गया आदेश बिना किसी भेदभाव के पूर्ण करता है। चाहे वह कार्य सरल हो या कठिन।

7. विश्वसनीयता :-

जैसा कि इसका उल्लेख मैंने पहले भी कर चुका है, कि कंप्यूटर किसी भी कार्य को बिना किसी भेदभाव के करता है। इस पर व्यवसायिक या उद्यमी लोग भी पूर्ण रूप से बिना किसी संदेह के निर्भर रहते हैं।

Computer in Hindi

कंप्यूटर की सीमाएं (Limitation of Computer) :-

आज कंप्यूटर की क्षमताएं ही Computer की लोकप्रियता का मुख्य कारण हैं। लेकिन किसी भी मानव निर्मित प्रणाली की क्षमताओं के साथ-साथ उनकी कमियां भी होना जायज है। किसी भी कमियों के बिना मानव निर्मित प्रणाली की कल्पना नहीं की जा सकती हैं. इसलिए कंप्यूटर की कमियों को भी जानना अति आवश्यक है। वैसे तो कंप्यूटर की कमियों का वर्णन करना एक चुनौतीपूर्ण कार्य है । परंतु आज हम इस पर ठीक से विचार करें तो इसकी कुछ कमियों पर प्रकाश डाला जा सकता है। तो आइए अब इस पोस्ट में आगे बढ़ते हैं और इसकी कुछ कमियों को जानते हैं। कि Computer की मुख्य कमियां कौन-कौन सी हैं ?

इसे भी पढ़ें :- Generation Of Computer ( कंप्यूटर की पीढ़ियां )

1. बुद्धिमता की कमी (Lack of Intelligence) :-

कंप्यूटर एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है। जिसका कार्य किसी भी यूजर के निर्देशों को क्रियान्वित करना होता है। कंप्यूटर किसी भी स्थिति में न तो निर्देश से अधिक और ना ही निर्देश से कम का क्रियान्वयन (Execute) करता है। Computer एक बिल्कुल मूर्ख (Idiot) नौकर की भांति अपना कार्य करता ही रहता है ।

चलिए इस बात को अब मैं एक अच्छे उदाहरण (Example) के साथ समझाता हूं। यदि आप इसे कहें कि जाओ नल से पानी भर लो ऐसा निर्देश देने पर वह नल तक तो जाएगा, और पानी भी भरेगा। लेकिन वह पानी लेकर घर वापस नहीं लौटेगा यहां प्रश्न उठता है क्यों ? इसका सीधा उत्तर है - कि आपने उसे नल तक जाने को और वहां जाकर पानी भरने को कहा है, परंतु उसे घर तक वापस लेकर आने का निर्देश नहीं दिया इसका अर्थ यह है, कि Computer के अंदर भावनाओं (feeling) को समझने की क्षमता नहीं है। (अभी पढ़ रहे हैं - what is computer in hindi ?)

हालांकि आज के इस युग में कुछ वैज्ञानिक अभी भी Computer की बुद्धिमता के बारे में शोध कर रहे हैं । इसमें सफलता मिलने पर कंप्यूटर के अंदर बुद्धिमता की कमी को कुछ हद तक दूर किया जा सका है। परंतु मानवीय बुद्धिमता (intelligence) की तुलना किसी मशीनी बुद्धिमता (intelligence) के साथ नहीं किया जा सकता।

2. आत्मरक्षा करने में असक्षम (Unable in Self Protection) :-

कंप्यूटर में चाहे जितना भी गुण (Quality) हो, चाहे जितना भी शक्तिशाली (Powerful) क्यों ना हो, परंतु इसका पूरा नियंत्रण मानव के पास ही होता है। तथा वह जिस प्रकार इसका प्रयोग करना चाहे उस प्रकार कर सकता है। कंप्यूटर किसी भी प्रकार अपनी आत्मरक्षा नहीं कर सकता । चलिए इसको अब मैं एक आसान सा उदाहरण लेकर समझाता हूं।

1) उदाहरण :-

मान लो कि आपका कोई कंप्यूटर है जिस पर केवल आप ही कार्य करते हैं। आपने इस कंप्यूटर को खोलने के लिए एक पासवर्ड लगा कर रखा है। अब यदि इसे कोई दूसरा व्यक्ति खोलना चाहे तो उसे एक सही पासवर्ड की जरूरत होगी अगर उसे सही पासवर्ड पता है तो वह कंप्यूटर खुल जाएगा वह कंप्यूटर यह नहीं देखेगा कि इसे खोलने वाला कौन है वह सिर्फ इतना देखेगा कि पासवर्ड सही है या नहीं अगर पासवर्ड सही है तो वह कंप्यूटर खुल जाएगा।

2) उदाहरण :-

इसका एक अच्छा उदाहरण एटीएम मशीन (ATM) है। जिसका आप दैनिक जीवन में प्रयोग करते हैं। इसमें पैसा कौन निकाल रहा है। इसकी चिंता इस एटीएम मशीन को नहीं है। बल्कि वह केवल कार्ड के साथ पासवर्ड सही है या नहीं इसकी जांच करता है। कंप्यूटर की यह दृष्टिकोण एक ओर विश्वसनीय बनाता है, तो वहीं दूसरी ओर इसकी विश्वसनीयता पर प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है। (आप पढ़ रहे हैं : - what is computer in hindi ?)

कंप्यूटर की पीढ़ियां (Generation Of Computer) :-

दोस्तों कंप्यूटर का इतिहास जानना उतना ही जरूरी है, जितना इसका वर्तमान कंप्यूटर की पीढ़ी के बारे में जानना हमारे लिए एक महत्वपूर्ण विषय है। कंप्यूटर के भविष्य के बारे में जानने से पहले उसके आधार अर्थात इतिहास के बारे में जानना भी जरूरी है। तो आइए अब जानते हैं कंप्यूटर की विभिन्न पीढ़ियों के बारे में उनके काल उन पीढ़ियों के मुख्य विकास तथा इनकी विशेषताएं क्या - क्या है। सन 1945 में प्रथम इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस vacuum tube युक्त एक (ANIAC) नामक कंप्यूटर की शुरुआत ने कंप्यूटर के विकास को एक आधार प्रदान किया है। कंप्यूटर के विकास के इस क्रम में कई महत्वपूर्ण Divice की सहायता से कंप्यूटर ने आज तक की यात्रा को तय किया है। इस विकास के क्रम को हम कंप्यूटर में कुछ मुख्य परिवर्तन के आधार पर विस्तार से जानेंगे।

Generation of computer
  • प्रथम पीढ़ी (First Generation of Computer)
  • द्वितीय पीढ़ी (Second Generation of Computer)
  • तृतीय पीरजी (Third Generation of Computer)
  • चतुर्थ पीढ़ी (Fourth Generation of Computer)
  • पंचम पीढ़ी (Fifth Generation of Computer)

कंप्यूटर की पीढ़ियों के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करने के लिए Click करें। इसमें मैं आपको यही सलाह दूंगा की ऊपर दिए link पर क्लिक कर के computer के पीढ़ियों के बारे में विस्तार से पढ़ें । (आप पढ़ रहे हैं - what is computer in hindi ?)

कंप्यूटर के प्रकार (Types of Computer) :-

कंप्यूटर के प्रकार के बारे में जानना एक बहुत महत्वपूर्ण विषय है। पिछले सेक्शन में हमने बात किया कंप्यूटर की परिभाषा, कंप्यूटर के विभिन्न क्षेत्रों में इसके उपयोग, इनकी क्षमता, इनकी सीमाएं और अब इस सेक्शन में हम पढ़ेंगे कि कंप्यूटर कितने प्रकार के होते हैं। क्योंकि कंप्यूटर अलग-अलग जरूरतों के हिसाब से और अलग-अलग क्षेत्रों में उपयोग होने वाला एक यंत्र है। इसलिए हम इसे क्षेत्र विशेष के हिसाब से कंप्यूटर के अलग-अलग प्रकार जानेंगे।

types of computer

जो कंप्यूटर आप अपने व्यक्तिगत कार्यों के लिए प्रयोग करते हैं। वह वैज्ञानिक रिसर्च तथा चिकित्सा जांच के लिए प्रयोग किया जाने वाला कंप्यूटर से भिन्न होते हैं। कुछ कंप्यूटर सामान्य उद्देश्य के लिए बनाए गए हैं, तो कुछ कंप्यूटर विशेष उद्देश्यों की पूर्ति के लिए बनाया गया है। कंप्यूटर को उनके काम करने के तरीके के आधार पर, कंप्यूटर को उनके आकार के आधार पर वर्गीकृत किया गया है। सामान्यता कंप्यूटरों को सीधे-सीधे प्रत्यक्ष रूप में वर्गीकृत करना कठिन है। इसलिए हम इन्हें तीन भागों में वर्गीकृत करते हैं। (अभी आप पढ़ रहे हैं - what is computer in hindi ?)

1. कार्यप्रणाली के आधार पर कंप्यूटरों के प्रकार (Types of Computer Based on Machanism) :-

  • एनालॉग कंप्यूटर (Analog Computer)
  • डिजिटल कंप्यूटर (Digital Computer)
  • हाइब्रिड कंप्यूटर (Hybrid Computer)

2. उद्देश्य के आधार पर कंप्यूटरों के प्रकार (Types of Computer Based on Purpose) :-

  • सामान्य उद्देश्य कंप्यूटर (General Purpose Computer)
  • विशिष्ट उद्देश्य कंप्यूटर (Special Purpose Computer)

3. आकार के आधार पर कंप्यूटरों के प्रकार (Types of Computer Based on Size) :-

  • माइक्रो कंप्यूटर (Micro Computer)
  • वर्क स्टेशन (Workstation Computer)
  • मिनी कंप्यूटर (Mini Computer)
  • मेनफ्रेम कंप्यूटर (Mainframe Computer)
  • सुपर कंप्यूटर (Super Computer)

कंप्यूटर के प्रकारों के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करने के लिए click करें । इसमें मैं आपको यही सलाह दूंगा की ऊपर दिए link पर क्लिक कर के computer के प्रकार के बारे में विस्तार से पढ़ें ।

कंप्यूटर के मूलभूत प्रयोग (Fundamental Uses of Computer) :-

दोस्तों आज कंप्यूटर हमारे दैनिक जीवन में एक महत्वपूर्ण अंग बन गया है । आज देश में बड़े से बड़ा उद्यमी से लेकर आम आदमी भी इसका प्रयोग करने से वंचित नहीं है। आज सरकार के अनेकों कार्य कंप्यूटर के बिना नहीं होती है। वहीं भारतीय रेलवे अपनी आरक्षण प्रणाली को कंप्यूटर से ही प्रभावशाली बना सकती है। विश्वविद्यालय शिक्षण संस्थान कंप्यूटर की सहायता से हजारों कार्यों को सफलतापूर्वक अंजाम दे पाते हैं। आज बैंकों में किए जाने वाले सारे कार्य कंप्यूटरीकृत हो गए हैं। कई संगठन कार्यालय आदि की संरचना प्रणाली कंप्यूटर पर आधारित है । (अभी आप पढ़ रहे हैं - what is computer in hindi ?)

आज हम घर बैठे जो T.V. के कार्यक्रम देखते और सुनते हैं सभी कंप्यूटर द्वारा ही संपादित किए जाते हैं। और उन्हें हम तक पहुंचाने में भी कंप्यूटर अपनी महत्वपूर्ण भूमिका अदा करती हैं। किसी भी देश की 1 सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी होती है। इसे दूर करने के लिए भी कंप्यूटर ने रोजगार के नए नए द्वार खोल कर रख दिए हैं। आज मानो सारी दुनिया सिमट कर रह गई है। और सारी सूचनाओं का भंडार एक ही जगह प्राप्त हो जाता है। अतः इस क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढ़ गए हैं। कंप्यूटर की उपयोगिता विभिन्न क्षेत्रों में है। तो चलिए अब हम जानते हैं कि कंप्यूटर का प्रयोग किस-किस क्षेत्रों में किया जा रहा है।

  • शिक्षा के क्षेत्र में कंप्यूटर (Computer in Education)
  • मनोरंजन के क्षेत्र में कंप्यूटर (Computer in Entertainment)
  • वैज्ञानिक शोध में कंप्यूटर (Computer in Scientific research)
  • चिकित्सा के क्षेत्र में कंप्यूटर (Computer in Mediacl)
  • सूचना प्रौद्योगिकी में कंप्यूटर (Computer in Information Technology)
  • घर में और व्यक्तिगत कार्यों में कंप्यूटर (Computer in Household and Personal Uses)

कंप्यूटर के मूलभूत प्रयोगों के बारे में संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने के लिए 👉 Click करें । इसमें मैं आपको यही सलाह दूंगा की ऊपर दिए link पर क्लिक कर के computer के Uses के बारे में विस्तार से पढ़ें । अभी आप पढ़ रहे हैं what is computer in hindi ?

सारांश (Summary) :-

  1. कंप्यूटर एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक मशीन है जो अंकगणितीय तथा तार्किक क्रियाकलापों को साथ - साथ संपन्न करने की क्षमता रखता है।
  2. कंप्यूटर में स्वचालन, शुद्धता, गति, सर्वभौमिकता, उच्च संग्रहण क्षमता, कर्मठता और विश्वसनीयता समाहित हैं।
  3. कंप्यूटर की कमियों तथा बुद्धिमता या सामान्य ज्ञान की कमी एक महत्वपूर्ण विषय है। इसके अतिरिक्त कंप्यूटर आत्मरक्षा करने में सक्षम नहीं है।
  4. सुपर कंप्यूटर परम का अविष्कार भारतीय कंप्यूटर वैज्ञानिक ने भारत में ही किया।
  5. एंबेडेड (Embedded) कंप्यूटर एक विशेष उद्देश्य कंप्यूटर सिस्टम है जो कि अन्य डिवाइस इस को नियंत्रित करता है
  6. सुपर कंप्यूटर में एक सीपीयू में अनेक ए. एल. यू. (A.L.U.) होते हैं ।
  7. सुपर कंप्यूटर, कंप्यूटर की सभी श्रेणियों में सबसे बड़े, सबसे अधिक स्टोरेज क्षमता वाले तथा सबसे अधिक गति वाले होते है।

उपसंहार (Conclusion) :-

आज आपने क्या सीखा -

दोस्तों आज के इस पोस्ट में अपने कंप्यूटर का परिचय, कंप्यूटर क्या है ? what is computer in hindi ? कंप्यूटर की साक्षरता क्यों जरूरी है ? कंप्यूटर की क्षमता, कंप्यूटर की पीढ़ियां, कंप्यूटरों के विभिन्न प्रकार तथा कंप्यूटरों के मूलभूत प्रयोग के बारे में पढ़ा और सीखा है। अब मुझे पूरा विश्वास है । कि आपको कंप्यूटर के बारे में बहुत कुछ जानकारी प्राप्त हो गई है। कुछ बाकी हैं जो आगे आने वाले हमारे पोस्ट में पढ़ेंगे दोस्तों यदि आपको यह हमारा लिखा गया लेख पसंद आया या फिर जानकारी पूर्ण लगा, तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं और इस जानकारी को Social Media पर अपने मित्रों और परिवारजनों के साथ साझा करें। जिससे और लोगों को भी कंप्यूटर के बारे में जानकारी मिल सके।

So अगर आपके मन में कोई सवाल या सुझाव है तो नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी टिप्पणी जरूर संलग्न करें आपके द्वारा दिया गया सवाल या सुझाव हमारे लिए महत्वपूर्ण होगा। धन्यवाद !

Post a Comment

Previous Post Next Post